Blogging Kaise Suru Kare (Complete A - Z Guide)

Blogging Kaise Suru Kare

हेलो दोस्तों मेरा नाम रिजू है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर हूं, मैं 5 साल से ब्लॉगिंग कर रहा हूं। आज के इस डिजिटल युग में ब्लॉग्गिंग अपनी रुचि के अनुसार पैसा कमाने का एक लाभकारी तरीका है। आप स्वास्थ्य, शरीर सौष्ठव, यात्रा, खेल, शायरी जैसे किसी भि विशेष विषय में अपना अनुभव साझा करके पैसा कमा सकते हैं।

सबसे पहले हमें यह जानना होगा कि ब्लॉगिंग क्या है और आप इसे कैसे शुरू कर सकते हैं, इसलिए इस पोस्ट में मैं आपको अपने पूरे अनुभव के साथ बताता हूं कि आप कैसे स्टेप by स्टेप अपनी ब्लॉगिंग साइट बना सकते हैं

ब्लॉग या वेब ब्लॉग एक वेबसाइट है जिसमें एक या एक से अधिक विषयों के बारे में नियमित रूप से जानकारी होती है। आप वेब ब्लॉग के माध्यम से किसी भि वेबसाइट पर कोइ भि जानकारी प्राप्त कर सकते है। आप जो लेख पढ़ रहे हैं वह ऐसा ही एक ब्लॉग का उदाहरण है।

Blogging Kaise Suru Kare - Step by Step

Apna blogging kaise suru kare
    तो ब्लॉगिंग साइट बनाने के लिए मुख्य रूप से 5 या 6 स्टेप होते हैं जिनका आपको पालन करना होता है। वो है –

  1. पहले एक ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म चुनना और अपने ब्लॉग के लिए एक सही विषय का चयन करना
  2. अपनी सामग्री के समान डोमेन नाम चुनें
  3. एक वेब होस्टिंग एकाउन्ट खोले
  4. एक वर्डप्रेस अकाउंट शुरू करें और अपना डिज़ाइन और थीम चुनें
  5. अपने ज्ञान और अनुभव के माध्यम से अपनी ब्लॉग सामग्री लिखें और प्रकाशित करें
  6. अपने ब्लॉग को रैंक करने के लिए SEO Optimization करे

अब मैं आपको उन सभी बिंदुओं का विस्तृत विवरण दे रहा हूं जिनके द्वारा आप आसानी से समझ जाओगे और आपको इस विषय को एक बार फिर से खोजने की आवश्यकता नहीं होगी।

Blogging Kaise Start Kare Stepwise

STEP 1 :पहले एक ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म चुनना और अपने ब्लॉग के लिए एक सही विषय का चयन करना

सबसे पहले आपको एक सही विषय चुननी होगी जिसमें आपकी रुचि हो। अधिकांश ब्लॉगर एक ऐसी जगह चुनते हैं जिसमें उन्हें कोई दिलचस्पी नहीं है और कुछ समय के बाद वे वो उस साइट को जारी नही रख पाते। सबसे पहले आपको एक सही बिषय चुननी होगी और आपको यह भी देखना होगा कि आपके बिषय में पर्याप्त मात्रा में ट्रैफ़िक है (उपभोक्ता की संख्या)| ओर आपको आपने बिषय का आकार(reach) और अपने प्रतियोगी को(competition )भी खोजना होगा|

एक बार जब आप ऐसा कर लेते हैं तो आपको अपने बिशय के लिए एक विशेष ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ढूंढना होता है। इंटरनेट में ब्लॉगर, वर्डप्रेस और भी बहुत से प्लेटफॉर्म उपलब्ध हैं। यदि आप वर्डप्रेस को एक प्लेटफॉर्म के रूप में चुनते हैं तो आपको एक होस्टिंग खरीदनी होगी लेकिन ब्लॉगर में गुगेल मुफ्त में होस्टिंग देता है।

मेरी राय में आप वर्डप्रेस का उपयोग करके अपनी यात्रा शुरू कर सकते हैं क्योंकि वो आपको बोहोत साड़ी लाभ प्रदान करेंगे जो आपको आगे भी मदद करेंगे।

लेकिन दूसरी साइट पर अगर आपको वित्तीय समस्या है या आप एक छात्र हैं और आप इसको एफो्रट नहीं कर सकते हैं तो आप ब्लॉगर को एक मंच के रूप में चुन सकते हैं

STEP 2 :अपनी सामग्री के समान डोमेन नाम चुनें

अगला कदम अपने ब्लॉगिंग के लिए एक डोमेन नाम खोजना और खरीदना है। विभिन्न प्रकार के डोमेन नाम उपलब्ध हैं जैसे .com (यह आपकी साइट की वैश्विक पहुंच के लिए है), .in (यह एक विशेष क्षेत्र तक पहुंच के लिए है), .edu (आपके शैक्षिक ब्लॉग के लिए) और कई और भी हैं और कीमत आपकी पहुंच से भिन्न होगी।

आपका डोमेन नाम आपके URL (URL-यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर) के समान है। यह आपकी साइट का एक unique नाम है और गुगेल में शामिल सभी लोग आपको इस नाम से जानेंगे। . com सभी में सबसे लोकप्रिय है क्योंकि इसमें US और् UK आदि जैसे वैश्विक दर्शक हैं, इसलिए आप वहां से अधिक पैसे बना सकते हैं और आपकी CTC (प्रति क्लिक लागत) बेहतर होगी ओर् अधिक होगी।

मैं आने वाले और वीडियो में सीटीसी के बारे में विस्तार में बताऊंगा, अभी के लिए मैं आपको बता सकता हूं कि एक बार आपको एडसेंस की मंजूरी मिलने के बाद आपकी साइट पर अलग-अलग बिजनेस कंपनी य्दारा advertisement दिखाइ जायेगी ,ओर US और UK देशों के User से आपको भारत या बांग्लादेश या पाकिस्तान आदि की तुलना में अधिक पैसा मिलेंगे। क्योंकि डॉलर की कीमत रुपये से ज्यादा होती है।

आपके पास गोडाडी(GoDaddy), ब्लूहोस्ट(Bluehost), बिगरॉक(BigRock), शॉपिफाई(Shopify), नेमस्पेस(NameSpace) जैसी कई अन्य साइटें हैं जहां से आप अपना डोमेन नाम खरीद सकते हैं। आप अपनी आवश्यकता और लाभ के अनुसार चयन कर सकते हैं।

Apna blogging kaise suru kare

STEP 3 : एक वेब होस्टिंग एकाउन्ट खोले

अपनी डोमेन खरीदने के बाद आपको अपनी साइट के लिए एक होस्टिंग खरीदनी होगी। जैसा कि मैंने पहले ही कहा कि यदि आप ब्लॉगर के माध्यम से अपना ब्लॉगिंग शुरू करते हैं तो आपको कोई होस्टिंग खरीदने की आवश्यकता नहीं है। गुगेल स्वचालित रूप से आपको एक मुफ्त होस्टिंग देता है, लेकिन वर्डप्रेस में आपको एक वेब होस्टिंग खरीदनी होती है और हर साल आपको अपने होस्टिंग प्रदाता को कुछ राशि का भुगतान करना पड़ता है।

होस्टिंग का मूल रूप से मतलब है कि आप अपनी सामग्री के लिए कुछ जगह खरीदते हैं और अपनी फाइलों को Server पर Save करके रखते हैं और यह किसी भी स्थिति के बावजूद पूरे वर्ष 24/7 उपयोगकर्ता के लिए उपलब्ध है। उपयोगकर्ता को बस आपका डोमेन नाम लिखना है और वे सभी सामग्री को ऑनलाइन एक्सेस कर सकते हैं, भले ही आप offline क्युँ ना हों ।

आपको एक Proper होस्टिंग चुननी होगी क्योंकि इससे भविष्य में कई समस्याएँ हो सकती हैं, कभी कभी सस्ती होस्टिंग खरीदना फायदेमंद नहीं होता है। इंटरनेट पर अलग-अलग तरह की साइट्स उपलब्ध हैं जहां से आप अपनी होस्टिंग खरीद सकते हैं, आपकी जरूरत के हिसाब से अलग-अलग वेबसाइटों में कीमत अलग-अलग होगी।

कुछ उदाहरण है ब्लूहोस्ट(Bluehost), होस्टिगर(Hostinger), गोडाडी(GoDady), ड्रीमहोस्ट(DreamHost) इत्यादि ।

डोमेन और होस्टिंग ख़रीदना आपकी ब्लॉगिंग यात्रा का अनिवार्य हिस्सा है। आपको कई सारे ब्लोग ओर वीडियो मिल जायेगि जहां वे आपको डोमेन और होस्टिंग खरीदने के लिए Step by Step प्रक्रिया दे देंगे।

STEP 4: एक वर्डप्रेस अकाउंट शुरू करें और अपना डिज़ाइन और थीम चुनें

इस Section में मैं आपको बताऊंगा कि आप वर्डप्रेस पे कैसे account बना सकते हैं और कैसे कस्टम डिज़ाइन सेट कर सकते हैं। मैं आपको दिखाऊंगा कि आप ब्लूहोस्ट के माध्यम से ब्लॉग कैसे बना सकते हैं, यह मेरी व्यक्तिगत पसंद है लेकिन किसी आप कई अन्य होस्टिंग का चयन भि कर सकते हैं।

सबसे पहले आपको ब्लूहोस्ट के होमपेज पर जाना होगा। इसके बाद आपको गेट स्टार्ट बटन पर क्लिक करना है। (यहां होम पेज का लिंक दिया गया है (BlueHost.com)।

यहा पर विभिन्न प्रकार के होस्टिंग प्लान उपलब्ध हैं, आप उनमें से किसी को भी चुन सकते हैं। पहले ब्लॉग के रूप में आप Basic Plan को आजमा सकते हैं, बाद में आप अपनी साइट की पहुंच के अनुसार अपनी योजना को अपग्रेड कर सकते हैं। आप अपनी जरूरत के हिसाब से 12 महीने, 24 महीने या 36 महीने का प्लान चुन सकते हैं।

उसके बाद आपको अपना डोमेन नाम सेट करना होगा, आप एक डोमेन नाम चुन सकते हैं जो आपकी Content के अनुकूल हो और उपयोगकर्ता आसानी से समझ सके कि आप किस प्रकार की Content प्रदान करेंगे। एक नाम चुनने के बाद वे आपको दिखाएंगे कि नाम उपलब्ध है या नहीं और कुछ इसी तरह का नाम सुझाव भी देंगे। आप वहां से एक नाम चुन सकते हैं। यदि आप पहले से ही किसी अन्य साइट से डोमेन नाम खरीद चुके हैं तो आप उस नाम का उपयोग भि यहां कर सकते हैं।

एक नाम चुनने के बाद आपको Registration page पर जाना होगा और अपना विवरण भरना होगा। एक बार ऐसा करने के बाद आपको सभी Security से संबंधित निजी सुरक्षा बॉक्स को चेक करना होगा। आप बेहतर से समझने के लिए नियम और शर्त पढ़ सकते हैं और चेक बॉक्स पर टिक कर सकते हैं, और अपना भुगतान कर सकते हैं। अब आप जाने के लिए तैयार हैं। आप अपने वर्डप्रेस डैशबोर्ड को अपनी ब्लूहोस्ट साइट से एक्सेस कर सकते हैं।

अब आपको एक सुंदर थीम और डिज़ाइन चुननी है जो आपकी content के अनुकूल हो। वर्डप्रेस डैशबोर्ड के अंदर विभिन्न प्रकार के विकल्प उपलब्ध हैं। Appearance tab के तहत थीम का विकल्प होता है। यहा हजारों से अधिक थीम उपलब्ध हैं, अपनी पसंद के अनुसार चुनें। एक ऐसा थीम चुनें जो आपके content के साथ मिलती हो और आपके ब्लोग को सुबिधाए प्रदान करता हो। एक बार यह हो जाने के बाद आपको अपनी साइट को कस्टमाइज़ करना होगा। रंग, टेम्पलेट, background image आदि का चयन करना होगा।

वर्डप्रेस में विभिन्न प्रकार के plugins उपलब्ध हैं जो आपकी साइट को अनुकूलित करने में आपकी सहायता कर सकते हैं। सबसे लोकप्रिय Plugins हैं –

Yoast SEO, Akismet, MonsterInsights, WP Super Cach, YARPP आदि।

Apna blogging kaise suru kare

STEP 5: अपने ज्ञान और अनुभव के माध्यम से अपनी ब्लॉग content लिखें और प्रकाशित करें

अब आप अपने ब्लॉग्गिंग के मुख्य भाग पर आ गैए हैं। यह सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। एक बार जब आप सभी सेटअप प्रक्रिया पूरी कर लेते हैं, तो आप अपनी content लिखते हैं। बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें किसी क्षेत्र में किसी प्रकार का ज्ञान होता है या किसी क्षेत्र में रुचि होती है। आपको इसि अपने ज्ञान और बहुमूल्य जानकारी को साझा करना होगा जो पाठकों और उपयोगकर्ताओं की मदद करे।

अपने अनुभव के रूप में मैंने देखा कि बहुत से ब्लॉगर हैं, उन्हें किसी विषय का कोई ज्ञान नहीं है, लेकिन केवल पैसे कमाने के लिए वे एक जगह पर ब्लॉग लिखते हैं जो उपयोगकर्ताओं को कोई मदद नहीं देता है, इसलिए उपयोगकर्ता उस साइट पर आना पसंद नहीं करते है , और कुछ समय बाद कोइ उपयोगकर्ता ना होने के कारण वो ब्लॉगिंग छोड़ देते है।

आपको पहले यह समझना होगा कि आप अपनी पोस्ट से पैसे कमा सकते हैं लेकिन आपको धैर्य रखना होगा और पहले 6-7 महीने बिना पैसे के सोचे-समझे मूल्यवान सामग्री प्रदान करनी होगी जो लोगों को उनके जीवन में मदद कर सके। एक बार जब आप इस प्रक्रिया का आनंद लेते हैं तो आप निश्चित रूप से पैसा कमा साकते है।

अपने व्यक्तिगत अनुभव से मैं आपको अपने सभी ज्ञान और अनुभव से एक ब्लॉग लिखने का सुझाव देता हूं और यदि आपके पास ज्ञान नहीं है, तो पहले ज्ञान इकट्ठा करें और उसे लिखें। इंटरनेट में विभिन्न विषय उपलब्ध हैं वहां से आप किसी भी विषय से संबंधित विचार जैसे भोजन, स्वास्थ्य संबंधी, यात्रा ब्लॉग, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए, कहानी लेखन, शायरी, शिक्षा, product review, motivational आदि चुन सकते हैं। धैर्य रखें, विनम्र रहें , और अपनी ब्लॉगिंग यात्रा शुरू करें। एक बार जब आप अपनी content लिख लेते हैं तो आपको अपनी पोस्ट के लिए SEO optimization करना होता है। जिसे अगले भाग में cover किया जाएगा।

Apna blogging kaise suru kare

STEP 6: अपने ब्लॉग को रैंक करने के लिए SEO Optimization करे

SEO का मतलब Search Engine Optimization है। यह आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करने का एक तरीका है। Seo Optimization करके आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक ला सकते हैं। यह आपकी ब्लॉग्गिंग यात्रा का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। Seo Optimization अकेले यह एक बहुत बड़ा विषय है।

आपको स्टेप बाय स्टेप सीखना होगा कि आप SEO कैसे कर सकते हैं। कई वेबसाइटें अपना Seo Optimization करने के लिए किसी एजेंसी या SEO विशेषज्ञ को नियुक्त करती हैं। लेकिन एक ब्लॉगर के रूप में मैं आपको सुझाव देता हूं कि आप खुद सीखें कि SEO कैसे करते हे, यह इतना कठिन नहीं है जितना आप सोचते हैं और ऐसा करके आप ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।

Seo Optimization एक ऐसी तकनीक या प्रक्रिया है जिसके द्वारा हम सही कीवर्ड ढूंढते हैं। कीवर्ड का मतलब उन word से है जो किसी भी सर्च इंजन में उपयोगकर्ताओं द्वारा खोजी जाती हैं। यदि मैं एक उदाहरण देता हूं कि उपयोगकर्ता "मैं ऑनलाइन पैसा कैसे कमा सकता हूं" या "हमारी दैनिक आहार योजना क्या होनी चाहिए" या "भारत में शीर्ष 10 घूमने वाले स्थान" तो ये कीवर्ड के उदाहरण हैं। यदि आप उन संबंधित कीवर्ड को अपने ब्लॉग में जोड़ते हैं तो गुगेल क्रॉलर आपकी पोस्ट को आसानी से ढूंढ सकता है और आपकी पोस्ट को रैंक कर सकता है।

जब आप कोई नया ब्लॉग जोड़ते हैं तो आपको प्रत्येक content के लिए SEO मेटा टेग जोड़ने होते हैं। इनके द्वारा गुगेल क्रॉलर यह समझता है कि आपका वेबपेज क्या है। वर्डप्रेस में आप SEO (Yoast plugin) के लिए फ्री plugin का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Off Page SEO Kaise Kare

SEO के अलावा आपको अपनी साइट के लिए बैकलिंक्स भी बनाने होंगे। बैकलिंक्स उच्च डोमेन प्राधिकरण साइटों पर आपके ब्लॉग को बढ़ावा देने या संदर्भित करने की एक प्रक्रिया है। अपनी साइट के बैकलिंक्स बनाकर आप गूगल पर विश्वास पैदा कर सकते हैं और अपनी साइट के अधिकार और पहुंच को बढ़ा सकते हैं।

ये सभी ट्रिक्स और टिप्स हैं जिनका पालन करके आप अपना ब्लॉगिंग करियर शुरू कर सकते हैं। अंत में मैं कहूंगा कि अपनी साइट को विभिन्न मार्केटिंग तकनीकों द्वारा बढ़ावा दें जो आपके ब्लॉग को बहुत तेज़ी से बढ़ने में मदद करेगी। आप विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर आदि से अपनी साइटों की मार्केटिंग कर सकते हैं।

अंत में मैं कहना चाहता हूं कि यह आपकी ब्लॉगिंग यात्रा शुरू करने का सही समय है, धैर्य रखें, मूल्यवान content दें, और सर्वश्रेष्ठ की आशा करें। मैं आप सभी को ब्लॉगिंग यात्रा की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं।

Post a Comment

0 Comments